एडगर एलन पो का जन्म अमरीका के बोस्टन नगर में 1809 में हुआ था. दो वर्ष की आयु में वह अनाथ हो गये थे . फिर उनका पालन-पोषण उनके संबंधी जॉन एलन ने किया. उन्होंने वर्जिनिया यूनिवर्सिटी में प्रवेश लिया, लेकिन वह अपनी शिक्षा पूरी न कर पाए. पढ़ने के बजाय वह अपना अधिक समय शराब पीने और जुआ खेलने में व्यतीत करते थे.

फिर वह सेना में भर्ती हुए, लेकिन नियमों का पालन न करने के कारण उन्हें 'वेस्ट पॉइंट' से निकाल दिया गया. जब 1834 में जॉन एलन का निधन हुआ तब पो बिलकुल दरिद्र थे.

पो ने 1836 में तेरह वर्षीय वर्जिनिया क्लेम्म से विवाह किया. परन्तु उनका जीवन कठनाइयों से भरा था. पो को अपने लेखन से कुछ ख़ास आमदनी न होती थी. जब 1847 में वर्जिनिया की मृत्यु हुई, पो और अधिक शराब पीने लगे और जुआ भी अधिक खैलने लगे. इस कारण उन्हें लगातार कष्टों का सामना करना पड़ा.

लेकिन उनकी कहानियाँ प्रचलित हो रही थीं. यूरोप में तो उनकी कहानियों का फ्रेंच अनुवाद भी हुआ. अपने जीवन काल में बीच-बीच में वह लंबे समय तक बीमार भी रहते थे. बीमारी और अधिक शराब पीने के कारण कभी-कभी उन्हें भय लगता कि वह अपना मानसिक संतुलन खो रहे थे.

उनका अंत 1849 में हआ जब एक दिन बाल्टीमोर में वह एक गट्टर में मरणावस्था में पाए गये.

एडगर एलन पो अपने काल के सबसे गलत समझे गये व्यक्ति थे. लेकिन वह अमरीका के सबसे महान कहानीकारों में से एक थे.

Listen to auto generated audio of this chapter
Please join our telegram group for more such stories and updates.telegram channel

Books related to एडगर एलन पो कौन थे?


गड्ढा और पेंडुलम
 भवानी तलवारीचे रहस्य
शिप ४४
पाताळलोक